हिंदी भाषा से जुड़े २० आश्चर्यजनक तथ्य | जरुर पढ़े


अगर आप लोगो को अपने राष्ट्रभाषा हिंदी बोलने में शर्म आती है तो मुझे लगता है ये सब बाते जानने के बाद आपको भी हिंदी भाषा पर गर्व महसूस होगा . यह निम्न 20 बाते हिंदी के बारे में जाने और दूसरे लोगो को भी शेयर कीजिये ताकि वो लोग भी हमारे राष्ट्रभाषा हिंदी पर गर्वान्वित हो सके -
1.            पूरी दुनिया  में 500 मिलियन से भी ज्यादा लोग हिन्दी भाषा में  बोल और समझ सकते हैं। और इसी कारण इसे विश्व की सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषाओं में से जाना जाता है .

2.            हिन्दी भाषा 40% से भी ज्यादा भारतीयों की मातृभाषा (Mother Tongue)  है।

3.            हमारे देश भारत  में आज के समय बोली जाने वाली हिन्दी भाषा को Modern  Standard  Hindi या मानक हिन्दी कहा जाता है।

4.            हिन्दी का उद्गार संस्कृत से हुआ  है। और संस्कृत को देवों की भाषा भी कही जाती है। हिन्दी और संस्कृत दोनों को देवनागरी लिपि में ही लिखा जाता है। देवनागरी लिपि का मतलब होता है देवों के यहां लिखी जाने वाली लिपि।

5.            हिन्दी को सीखने के दृष्टि से सबसे सरल भाषा (Language)  में से एक कहा जा सकता है क्योंकि इसे जैसा लिखा जाता है वैसा ही पढ़ा भी जाता है। हिन्दी में प्रत्येक अक्षर  के व्यंजन का अलग ही स्वर  होता है जो इसे अन्य भाषाओं की अपेक्षा और ज्यादा महत्वपूर्ण  बनाता है।
6.            भाषा के रूप से हिन्दी और उर्दू दोनों एक ही भाषाएं है। हिन्दी को जहां देवनागरी लिपि (स्क्रिप्ट) में लिखा जाता है और इसमें संस्कृत के शब्दों को ज्यादा प्रयोग किया गया  है। वहीं उर्दू को पर्सियन लिपि( Persian Script)  में लिखा जाता है औऱ इसमें पर्सियन शब्द का प्रयोग ज्यादा है।

7.            हिंदी भाषा केवल भारत ही नहीं बल्कि मॊरीशस, नेपाल, त्रिनिदाद, टोबेगो, गुआना, फीजी आदि देशों में बड़ी संख्या में बोली जाती है।
8.            हिन्दी भाषा में कुल 11 स्वर (Vowels) और 33 व्यंजन (Alphabets) होते हैं,  और इन्ही स्वर और व्यंजनों की सहायता से शब्दों का निर्माण होता है। हिन्दी भाषा को बांये से दायें लिखा जाता है।
9.          भारतीय संविधान (Indian Constitution)  में 14 September, 1949 को हिन्दी की देवनागरी लिपि को अधिकारिक तौर पर मान्यता प्रदान की गई है। इसलिए 14 सितम्बर को हर साल हिन्दी दिवसभी मनाया जाता है।
10.          लेकिन हिन्दी अपनाने के मामले में बिहार ने पूरे भारत को पीछे छोड़ दिया था जब वर्ष 1881 में बिहार ने उर्दू को छोड़ हिन्दी को अपनी एकमात्र राज भाषा बना लिया था। और ऐसा करने वाला भारत का पहला राज्य था।
11.         अंग्रेजी भाषा में बहुत सारे शब्द  को हिन्दी से भी लिया गया है। जैसे Thug-ठग , Avatar-अवतार, Yoga-योग , Guru-गुरू, Karma-कर्म , Technology- तकनीकी  आदि। ये तो कुछ उदाहरण  है।
12.          हिन्दी शब्द की उत्पति पर्सियन भाषा  के  हिन्द शब्द से  है।
13.          हिन्दी के officially recognized 48 dialects है। मतलब ये सब भाषाई रुप से तो समान है लेकिन इनका pronunciation थोड़ा अलग होता है।
14.          वर्ष 1805 में लल्लूलाल द्वारा लिखी गई book प्रेम सागर को खड़ी बोली(जो हिन्दी का ही एक dialect है) की पहली किताब माना जाता है।
15.          वहीं देवकी नन्दन खत्री द्वारा वर्ष 1888 में लिखे गये चन्द्रकांताको आधुनिक हिन्दी का पहला authentic work कहा जाता है।
16.          हिन्दी भाषा के सबसे famous writer मुंशी प्रेमचंद का वास्तविक नाम धनपत राय श्रीवास्तव था। जिनका जन्म 31 जुलाई 1880 को उत्तरप्रदेश के लम्ही गांव में हुआ था।
17.          A Basic Grammar of Modern Hindi नाम से भारत सरकार की ओऱ से वर्ष 1958 में हिन्दी की grammar सिखाने वाली एक book publish की गई थी।

18.       हिन्दी साहित्य की चार रूप है- भक्ति, श्रृंगार, वीरगाथा और आधुनिक साहित्य।

19.       हिन्दी चाहे भारत की Official languages में से एक हो। लेकिन भारत की कोई भी राष्ट्रीय भाषा नहीं है। हिन्दी को राष्ट्रीय भाषा बनाने के लिए लम्बे समय से debate चल रही है, लेकिन इस पर अभी तक मुहर नहीं लगी है।



कोई टिप्पणी नहीं

Your comment is valuable for us.

Blogger द्वारा संचालित.