February 2016 - Altu & Faltu

Hot

28 फ़र॰ 2016

आरक्षण के विरोधियों का विरोध | समीक्षा

6:33 am 0


माननीय
तरूणसागर जी महाराज !
आरक्षण से हंस पिछड रहे है और कौए उड रहे हैं
आप जैन मुनि है ग्यानी हैं सो आपने अपने ग्यान के आधार पर ही ये बात कही होगी !
मसलन :- हंस = सवर्ण
कौए = obc sc st
महामहिम से मेरा निवेदन
१:- ये हंस सिकंदर के समय कहां थे?
२:- ये हंस मुगलों के समय कहां थे ?
३:- ये हंस डच फ्रांसीसी पुर्तगाली और अंग्रेजों के समय कहां थे ?
आपने कहा आरक्षण आर्थिक आधार पर हो ................
महोदय
१:- क्या पंच सरपंच जनपद सदस्य जिला पंचायत सदस्य अध्यक्ष विधायक व सांसद का चुनाव आर्थिक आधार पर होता है ?
२:- क्या कभी आप जैसे प्रकांड विद्वान ने कभी भूलकर भी इस पर कडवे या खट्टे प्रवचन दिए हैं ?
३:- क्या हवाई जहाज भारतीय रेल के रिजर्वेशन व उनकी सुविधायें आर्थिक आधार पर होती हैं ?
४:- क्या अर्थ से संपन्न लोगों ने नौकरी लेना बंद करदी हैं ? क्या वे यह लिखकर देने को तैयार है कि वे नौकरी न लेकर गरीब लोगों को छोडने को तैयार है ?
५:- क्या मंदिर में पुजारी का जन्मजात आरक्षण आर्थिक आधार पर है ? यदि हां तो कैसे?
यदि नहीं तो क्यों नहीं आपके ग्यान चक्षु इस पर प्रकाशित कीजिए ?
६:- नौकरी के अलावा अर्थ का मतलब दूसरी जगह नगण्य है जैसे
मंदिर के पुजारी
कंपनियों के मालिक
जमीन के जमीदार
और
औहदेदार और रसूकदार
......
अत्यंत प्रखर वक्ता मुनि श्रेष्ठ तरुण सागर जी महाराज
अब कौओं की सुन लीजिए
१:- जब सडक पर मुरम गिट्टी बिछाई जाती है तो ये कौए काम आते हैं हंस नहीं २:- जब आप जैसों की शोभा यात्रा निकाली जाती है तो ये कौए बैंड बजाते हैं हंस नही
३:- सडक की सफाई कौए करते हैं हंस नहीं
४:- मंदिर का निर्माण करने में
कौओं का पसीना बहता है हंसो का नही
५:- रेल की पटरी बिछाना पुल बनाना भवन बनाना हो तो कौए आगे आते है हंस नहीं
६:- फसल बौने से काटने तक का काम कौए करते है हंस नहीं ?
७:- सारे गंदे काम कौए करते हैं इसलिए हंसों के गाल लाल होते हैं ?
कौए सारा जीवन हंसों की सेवा करते है और हंस कौओ के साथ क्या करते हैं ? लिखूं ......?
नहीं आप समझदार है
अब जरा सोचिये
१:- कभी कौओं ने किसी भगवान का मंदिर तोडा है ?
२:- कभी कौओ ने किसी हंस महापुरुषों का स्टेच्यु तोडा है? या उसपर कालिख या तेजाब डाला है ?
परंतु
वे कौन लोग हैं जो
१:- भगवान बुद्ध की मूर्ति तोडते हैं ? बाबासाहेब डां. अंबेडकर का स्टेच्यु तोडते व कालिख पौतकर अपने उच्य चरित्र का परिचय देते हैं वे कौए हैं या हंस ?
हंस कभी जातिवाद पर क्यों नहीं बोलते ?
महामुनि जी हम तो ये कौए और हंस की बात भूलना चाहते है ? हम चाहते है हंस और कौए एक ही उपवन में रहे क्योकि भारत का संविधान कहता है यह देश हर भारतवासी का है न कि किसी कौए या हंस का ? हम को ये भेदभाव की खाई भूलने दीजिए ? मुनि जी मुनि जी ही बने रहिए नेता तो बैसे ही गाजर घास की तरह हर जगह पैदा हो जाते है ? आपसे आज इतना अमूल्य ग्यान प्राप्त हुआ हम आपके आभारी है
पर ध्यान रखियेगा ये कौए अंबेडकरवादी है वगैर तर्क लगाये काम ही नहीं करते हैं ! मनुवादी नहीं है जो झांसे में आ जायें
मुनि जी
यदि उपरोक्त बातों से कुछ सीख मिले तो जरूर मंच से बोलिएगा !

वरना हम तो जानते ही हैं कि आप कितने विद्वान है ?
Read More

22 फ़र॰ 2016

भारत के लिए ख़तरा है आतंकवाद या आरक्षण ? जाट आंदोलन | पटेल आंदोलन

10:31 am 0
आप बताओ की भारत के लिए सबसे ज्यादा खतरा किससे है आतंकवाद से या आरक्षण , मुझे तो लगता है की भारत को सबसे ज्यादा खतरा आरक्षण से है न की आतंकवाद से क्यों जब भी भारत में आरक्षण की बात आती है तो लगभग १०० से २०० लोग मारे जाते है तो इसके लिए आतंकवादियों की जररूत ही क्या है |


आप लोगो ने हरियाणा में जो जाट आंदोलन चल रहा हैं उस का मौहोल तो देखा होगा की किस तरह लोग आपस में लड़ रहे है , मेरी समझ में ये नहीं आता है की लोग किस हक़ के लिए लड़ रहे है जो हमें आज ६९ साल पहले मिल चूका है अग्रेजो से |
जाट आन्दोलन में न जाने कितनी ट्रेन रद्द हो गयी , कितनी बसें आग के हवाले हो गए , न जाने कितनी जाने चली गयी , बस आरक्षण के चक्कर में । एक तरफ देश को आगे बढ़ने के लिए कोशिश की जा रही है और एक तरफ खाई में गिराने की कोशिश । 
  देश अब पीछे की और अग्रसर होता हुआ दिखाई दे रहा है । अभी समानंतर में दिल्ली के JNU में स्टूडेंट्स ने देश द्रोही नारे लग रहे थे । युवाओं का पूरा ध्यान इन भ्रष्ट कामो पर केंद्रित करवाया जा रहा है । जिसका पूरा पूरा लाभ राजनैतिक लोगो को मिल रहा हैं । 
सुनने में आ रहा है कि जाट आन्दोलन के परिणाम को देखते हुए राजपूत भी आंदोलन करने वाले हैं , अगर इसी तरह से चलता रहा तो इस देश को बरबाद होने से कोई नही रोक सकता । 
मैं तो यह कहता हु कि अपने आप को इतना मजबूत बनाये कि हमें किसी भी आरक्षण की जरूरत न पड़े ।

आज देश में हर रोज जवान शहीद हो रहे है लकिन उनकी चिंता किसी को नहीं है सब को चिंता है अपने आरक्षण का । अभी हाल ही में रविवार को कश्मीर में 3 जवान शहीद हो गये जिसमे से एक जवान हरियाणा का था आज हरियाणा के जाट को आरक्षण मिला है कल को गुजरात के पटेल आरक्षण के लिए लढाई करंगे उसके फिर किसी और राज्य में ऐसा होगा तो देश का विकास कैसे होगा जब सरकार आरक्षण ही देने में अपना सारा time लगा देगी |
आप भी अपने विचार व्यक्त करे , आपके विचार का स्वागत रहेगा इस ब्लॉग पर,,,








देश आगे बढ़ता है काम करने से न की मांग करने से अभी हल ही में अक्षय कुमार की फिल्म आई थी जिसका नाम एयरलिफ्ट था जिसमे एक ऐसे व्यक्ति की कहानी है जो भारत को ऐसा देश मानता था की जो बस केवल बाते करता है और कुछ भी नहीं कर सकता है लकिन जब वह मुशीबत में पड़ता है और उसे इसलिए नहीं मारा जाता क्योकि वह एक भारतीय होता है तब  उसे यहसास होता है की भारत दुनिया के लिए क्या है और वह एक वाक्य कहता है की अब मई कभी ये नहीं कहूँगा की हमारा देश कुछ नहीं कर सकता है |




Read More

19 फ़र॰ 2016

Freedom 251 क्यों न ख़रीदे !! जानिए

12:12 pm 0
जैसा क़ि दो दिन से Freedom251 नाम का फ़ोन बहुत ही ट्रेंडिंग में चल रहा है ,, बहुत से लोग 10-10 फ़ोन बुक करना चाहते हैं , लेकिन सर्वर बिजी होने के कारन बहुत कम लोगो का ही फ़ोन बुक हो पाया है । लेकिन अगर आपने अभी तक फ़ोन को बुक नही किया है तो मेरा एक सुझाव है की आप इस फ़ोन को न ले तो ही बेहतर है। क्योंकि----
ऐसे घोटाला भी हो सकता हे, अगर कंपनी पहले पैसे मांगे, या अपने खाते में जमा करवाने का बोले तो सस्ते मोबाइल का क्लेम करने वाला फ़्रीडम 251 घोटाले के सिवा और कुछ नहीं. 
   रिंगिंग बेल एक फ़्रॉव्ड कम्पनी के सिवा कुछ नहीं.इस बात की पूरी सम्भावना है कि हिंदुस्तान के अंदर सस्ते मोबाइल फ़्रीडम 251- रुपए 251 देने के के नाम पर बहुत बड़ा घपला होने वाला है. 
    सावधान: ये एकदम नई कम्पनी है जिसके बारे में कोई जानकारी भी उपलब्ध नहीं है. और इंटर्नेट पर भी बस 4-5 पन्नो में विवरण आ रहा है. इस कम्पनी की स्थापना बस पिछले वर्ष सितम्बर में हुआ है और इसका वेबसाइड freedom251.com पिछले महीने में हीं ख़रीदा गया है. सस्ते मोबाइल के नाम पर ये 100% घोटाले का हीं काम है.
इसी कम्पनी ( ringing bells.co.in ) ने इसी महीने फ़रवरी में एक स्मार्टफ़ोन रुपए 2999/- में बेचने की कोशिश की पर 10 लोगों का भी ऑर्डर कन्फ़र्म नहीं हुआ. और इस कम्पनी का कोई जवाब भी नहीं आया और इनके द्वारा दिए गए किसी भी नम्बर पर कोई कॉल रिसीव नहीं करता. ईमेल भी बाउन्स बैक हो जाता है. लोग शिकायत कर रहे हैं उन्हें भी इस घोटाले में फँसाया गया और अब यही कम्पनी ऐसे हीं फ़ीचर( 4g की जगह 3G) रुपए 251/- में देने की बात कर रही है ये घोटाला के सिवा और कुछ नहीं दिख रहा. 
    तो कृपया सावधान रहें. ये देखिए किस आसानी से और कितना बड़ा गोलमाल हो सकता है:- 
  अगर रुपए 251/- भाव से भी हिंदुस्तान के सिर्फ़ 1000000 ( 10 लाख ) लोगों ने भी बुक किया तो 251000000 ( पच्चीस करोड़ दस लाख ) सिर्फ़ दो- चार पेज की वेब साइड/ न्यूज़ पेपर ऐड देकर बना लेगी. 
  कम्पनी इस चक्कर में है कि छोटी रक़म समझ कर कोई कुछ नहीं करेगा और भूल जाएगा. 
   अपने 251/- रुपए बचाइए और इस घोटाले का हिस्सा मत बनिए. 
  कम्पनी कल सुबह 6 बजे से इसकी बुकिंग शुरू कर चुकी है,आशा है कि मेरे इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोग पढ़ेंगे और शेयर भी करेंगे ताकि सभी लोग इस गोलमाल को समझ सके और मूर्ख बनने से बच सके. 

कृपया शेयर ज़रूर करे
Read More

18 फ़र॰ 2016

दुनिया का सबसे सस्ता Smartphone FREEDOM 251 - कैसे ख़रीदे

6:34 am 1
दुनिया का सबसे सस्ता Smartphone FREEDOM 251 - कैसे ख़रीदे 
दुनिया का सबसे सस्ता smartphone India ने बनाया है जिसे बनाने का श्रेय घरेलू कंपनी Ringing bells , Noida को जाता है जिन्होंने एक ऐसा smartphone बनाया है जिसकी कीमत मात्र 251 रुपये है जो बेहतरीन feature से लैस है जिसमे 1 GB RAM and  8GB internal मेमोरी और 3G , 4 इंच display, quad core processor ,1400 mah बैटरी है जिसकी नार्मल कीमत कम से कम 5000 रूपये होगी लकिन ringing bells कंपनी इसे केवल 251 रूपये में दे रहा है |

FREEDOM 251 नाम के इस फ़ोन को www.freedom251.com जाये जहा से इसे आप ऑनलाइन बुकिंग कर सकते जो  cash on delivery उपलब्ध है जो 30 जून 2016 को deliver होगा |इस फ़ोन को Make in India और digital india के under में बनाया गया है ringing well कंपनी noida में स्थित है कुछ कंपनियों ने तो भारत सरकार से गुहार लगायी है कि इस फ़ोन को कम से कम ३७०० रुपये में बेचा जाना चाहिए इस फ़ोन में Make in India से जुड़े सारे app रहेंगे जैसे की Clean india , Farmer, WhatsApp , मेडिकल etc. freedom 251 जैसे feature वाले फ़ोन की कीमत लगभग 5000 से 10000 के बीच में होगी |



माना जा रहा है की Make in india के under होने के कारण इस फ़ोन पर कोई भी टैक्स नहीं लगया जा रहा है जिसकी वजह से ये फ़ोन इतना सस्ता है जो सारे कंपनियों के लिए एक परेशानी बन गया है क्योकि आज freedom 251 की वेबसाइट पर 600000 visiter per सेकेंड आ रहे है जो की भारत के किसी भी वेबसाइट से कही ज्यादा ये अपने आप में एक रिकॉर्ड है जो की भी smartphone कंपनी के वेबसाइट visitor का माना जा रहा है की करीबन २०००००००  लोगो अभी तक इस फ़ोन का आर्डर किया है जो अपने आप में एक दिन में इतने फ़ोन आर्डर करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है | 

Freedom 251 फ़ोन को कैसे  ख़रीदे:-
Ringing Bells ने Freedom 251 को बेचने के लिए एक अलग से वेबसाइट लांच किया था जो फ़ोन के नाम पर ही है - www.Freedom251.com .  लेकिन यह ववेबसाइट 18 /02/2016  सुबह से ही डाउन चल रहा है जिसके चलता Customers को  फ़ोन बुक करने में बहुत ज्यादा परेशानी हो रही है .
   लेकिन कंपनी ने यह दावा किया है की २४ घंटे के अन्दर वेबसाइट का सर्वर तंदुरस्त हो जायेगा . तो आप लोगो अगर इस फ़ोन को बुक करना चाहते हैं तो आपको बार बार वेबसाइट को चेक करने पड़ेगा . 

और अगर आप में से किसी ने इस फ़ोन को बुक कर लिया है आपको बहुत बहुत बधाई ...!!
Read More

17 फ़र॰ 2016

भारत दुनिया के लिए एक बाज़ार क्यों ?

10:27 pm 0
भारत आज दुनिया के लिए एक बाज़ार बन गया गया है हर देश ये जनता है की भारत में कुछ भी बिक सकता है, चाहे देश के नेता हो या देश के अधिकारी भारत में सब बिकता है|
ऐसा क्यों है की हम दुनिया के लिए एक बाज़ार बन गए है क्या हमारे पास किसी भी चीज़ की कमी है ? आज हमारा देश दुनिया के सबसे जायदा Tallent person  देने में नंबर एक पर है लकिन फिर भी हमारा देश एक बाज़ार है हम अपनी लिए सारी चीज़े  खुद क्यों नहीं बनाते है |

क्या हम कामचोर है ऐसा कुछ भी नहीं है हम बस आलसी है हम अपना कम दुसरो पर निर्भर करते है ,गूगल को अमेरिका ने बनया लकिन वहा सबसे ज्यादा भारतीय है, क्या हमारे देश के scientist नहीं बना सकते है?? बना सकते है लकिन बनाना नहीं चाहते यह पर कोई काम नहीं करना चाहता है उअर ये विदेश जाकर सारे काम अच्छे से करते है हमारे  देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने  Digital india की योजना बनायीं जिसके तहत भारत में हर उस व्यक्ति को मौका मिलेगा जिसमे कुछ करने की लगन हो फिर आज देश के सारे IIT में पढ़ने वाले बच्चे अमेरिका जैसे देश में पैसा कमाने के लिए  जाते है क्या वह india में पैसा नहीं कमा सकते लकिन उन्हें देश से ज्यादा पैसो की जरुरत है आज अमेरिका के पास सब कुछ है क्योकि वहा के लोग पहले अपने देश को priority देते है और वो चाहते है की हमारे देश में किसी को किसी भी वस्तु के लिए दुसरो के पास न जाना पड़े | 
               भारत में इतनी कुव्वत है कि वह मौजूदा कृषि उत्पादन में १0 गुना का इजाफा कर सके। इस्राइल में खेती योग्य जमीन पर प्रति वर्ग किलोमीटर कृषि उत्पादन से ५.८ मिलियन अमेरिकी डॉलर की कमाई होती है। भारत में यह केवल ८८,000 अमेरिकी डॉलर है। २00६-0७ के आर्थिक सर्वे ने कृषि क्षेत्र की कुछ ढांचागत कमोजरियों की ओर इशारा किया है, जिसमें गेहूं और चावल की यादा उपज वाली नई प्रजातियों की घटती उपज क्षमता, फर्टिलाइजरों का असंतुलित इस्तेमाल, बीजों की वापसी के कम दाम और कमोबेश सभी फसलों की प्रति यूनिट एरिया में कम होती उपज शामिल हैं। कृषि विकास पर भी बुरा असर पड़ा है क्योंकि बुआई की कुल जमीन का तकरीबन ६५ फीसदी हिस्सा अभी बरसात पर ही निर्भर है।
              एेसी ही कहानी पानी की भी है। भारत हर साल मिलने वाले ४000 बिलियन क्यूबिक मीटर ताजे पानी का केवल एक चौथाई हिस्सा ही इस्तेमाल कर पाता है। इसकी वजह सीमित जमीनी दायरे तक इसकी पहुंच, जल संसाधनों का असमान वितरण और कम बांध क्षमता हैं। कृषि उत्पादन में इस्तेमाल पानी के महज १४वें हिस्से को ही बेहतरीन श्रेणी में रखा जा सकता है।
          भारत को कायाकल्प कर सकने वाली तकनीकों पर अपना ध्यान कें्िरत करना चाहिए। मेरे विचार से, आधुनिक दवाओं, वैकिल्पक ऊर्जाओं, नेटवर्क कम्युनिकेशन, पब्लिक ट्रांसपोर्ट, प्रदर्शनकारी पदार्थो, बायोटेक्नॉलजी, नैनोटेक्नॉलजी, रोबोटिक्स, ऑटोमेशन और एयरोस्पेस के क्षेत्रों में खास ध्यान दिए जाने की जरूरत है।
हमारा सपना एक ऐसे विकसित भारत का सपना है जिसमें जनसंख्या का परिमाण स्थिर होगा जनता का मत व्यवहार जाति और धर्म के आधार पर नहीं बल्कि सरकार की नीतियों, उपलब्धियों एवं दक्षता के मूल्याँकन के आधार पर होगा। भारतीय राजनीति में ये सर्वप्रमुख आवश्यकता है जब जनता में राष्ट्रीयता और विकास के प्रति ऐसी भावना जागृत की जा सके जब राजनैतिक दल जनता को जाति, धर्म, नृजातियता एवं समुदाय या संप्रदाय के आधार पर विभाजित न कर सकें। यदि ऐसा हुआ तभी राष्ट्रीय विकास के लक्ष्यों को प्राप्त करना सम्भव हो पायेगा। सामाजिक, आर्थिक लक्ष्य राजनैतिक प्रणाली निर्धारित करती है और राजनीति में सरकार का चुना जाना जनता पर निर्भर करता है जब जनता शिक्षित होगी राष्ट्रीय हितों के
प्रति जागरुक होगी तो वो ऐसे नेता चुनेगी जिनका दृष्टिकोण विकास उन्मुख एवं राष्ट्रीयता से परिपूर्ण हो और जो किसी जाति किसी सम्प्रदाय के प्रतिनिधि न बनकर राष्ट्रीय विकास की संकल्पना का प्रतिनिधित्व करे। अर्थात विकसित भारत के सपने के पीछे छुपी हुई असंख्य पूर्वापेक्षायें हैं जिनका पूर्ण होना आवश्यक है।
Read More

दुनिया के हर आतंकवादी के पास होगा Apple.

9:29 pm 0
जिस तरह से एप्पल ने FBI को फ़ोन decode करने से मना किया उस तरह तो दुनिया का हर आतंकवादी apple फ़ोन खरीद लेगा |


बात है अमेरिका के कैलिफ़ोर्निया राज्य की जहा पर मंगलवार को हुए हमले में आतंकवादी का फ़ोन मिल गया और FBI ने Apple फ़ोन कंपनी को फ़ोन का password decode करने को कहा तो कंपनी ने decode करने से मना कर दिया | उस आतंकवादी हमले में तकरीबन १४ लोगो की जान गयी है |


कंपनी के नियमानुसार वह किसी भी कस्टमर का फ़ोन  बिना उसके permission के decode नहीं कर सकती जिसकी वजह से ये मामला अदालत तक पहुच गया है जहा FBI(अमेरिकन पुलिस ) ने apple को एक हफ्ते का time दिया है|



अगर apple ने फ़ोन decode नहीं किया तो इससे आतंकवादियों का हौसला बाद जायेगा और वो अपने मिशन को अंजाम देने के लिए apple का फ़ोन use में लायेंगे जिसे पुलिस के हाथ रखने से कोई फायदा नहीं होगा क्योकि अभी तक apple के security को केवल apple ही तोड़ सकती है |

जहा तक माना जाये apple को ऐसा नहीं करना चाहिए क्योकि उस आतंकवादी की वजह से बहुत लोगो की जान गयी है सायद उस फ़ोन में उनके अगले मिशन के बारे में कोई जानकारी हो या कोई कांटेक्ट नंबर हो जिसकी वजह से आगे और भी लोगो की जान जा सकती है | 
Read More

JNU के देशद्रोही या 2 कौड़ी के कुत्ते ??

6:48 am 0

JNU के देशद्रोही या 2 कौड़ी के कुत्ते:-

हमे तो अपनों ने लूटा , गैरों में कहाँ दम था....हनुमंथप्पा की जान तो JNU में लग रहे नारों ने ले ली , वर्ना सियाचिन के बर्फ में कहाँ दम था ....
इस लेख को शुरू करने से पहले मैं सबसे पहले शहीद हनुमंथप्पा और उनके साथ शहीद हुए सैनिको को श्रधांजलि अर्पित करना चाहूँगा . मैं आप सभी से एक बार विनती करता हूँ कि कृपया करके एक बार याद कीजिये  , हमारे देश के सैनिकों को जो आपके लिए , हमारे लिए , हमारे परिवार के लिए , हर एक हिन्दुस्तानी  के लिए अपनी जान की परवाह किये बिना अपने जान पर खेल कर हमारी जान बचाते हैं . जो २४ घंटे सर्दी , गर्मी , बरसात ,तूफान , आंधी कभी भी , कोई भी त्यौहार हो कोई भी छुट्टी हो फिर भी वो हमेशा अपने कर्तव्य को निभाने के लिए तत्पर रहते हैं . सिर्फ इसलिए कि आप और हम सुरक्षित रह सके . उनका कोई व्यक्तिगत लाभ नहीं होता . वो सिर्फ निस्वार्थ भाव से अपने देश की सेवा करने के लिए बॉर्डर पर तैनात रहते हैं . बस इसीलिए की आप और हम सुरक्षित रह सके . और बदले में उनको क्या मिलता हैं हमारी तरफ से ??
  15 अगस्त और 26 जनवरी को फेसबुक , whatsapp के प्रोफाइल पिक्चर पर एक तिरंगे की फोटो ? खैर वो भी ठीक है . वो तो उसपर भी संतुष्ट हो जाते हैं . एक दिन ही सही अगर हम अपना स्टेटस पर सेट कर देते हैं “ जय हिन्द” तो वो लोग इसमें भी बहुत खुश हो जाते हैं . वो इसमें भी बहुत गौरवन्वित होते हैं कि हमारे देशवासी कितने प्यार करते हैं .

      लेकिन जब JNU के कुछ २ कौड़ी के students , स्टूडेंट तो कहने लायक हैं नहीं मैं उनको कुत्ता बोलूँगा जैसा कि मैंने शीर्षक में लिखा हैं  . हाँ तो JNU के कुछ २ कौड़ी के कुत्ते  बोलते हैं कि अफज़ल हम शर्मिंदा हैं – तेरे कातिल जिंदा हैं ... भारत तेरे टुकड़े होंगे – इंसा अल्लाह इंसा अल्लाह ..., कश्मीर की आज़ादी तक जंग चलेगी ...जंग चलेगी ... हिंदुस्तान की बर्बादी तक जंग रहेगी जंग रहेगी . जब ये बातें सुनने को मिलती होंगी तो उन सैनिको के दिल पर क्या गुजरती होगी . आज मेरा  इतना खून खौल रहा है अगर सामने आ जाये उमर खालिद , कन्हैया कुमार तो मैं उनके साथ वो कर दूंगा जो पूरा देश चाहता है . और जहाँ तक मुझे लगता हैं आपके मन की भी इच्छा शायद मेरे ही जैसे होगी अगर आप सच्चे हिन्दुस्तानी हैं तो , अगर आपके अंदर भी देशभक्ति होगी अगर आपके मन में भी तिरंगा देख कर , वन्दे मातरम सुन कर जोश आता हैं  तो आपके मन में भी वही चल रह है जो मेरे मन में चल रहा है कि इन दो कौड़ी के कुत्ते को ऐसा मौत मारा जाय कि दुबारा ऐसा कोई बोलने से पहले ही डर के मारे मर जाये . लेकिन क्या करेंगे हमको को तो कुछ करने का अधिकार नहीं हैं ,जो अधिकार है वो तो बस उन्ही लोगो को है जिनको “फ्रीडम ऑफ़ स्पीच “ मिली हुई है . आज मेरी “फ्रीडम ऑफ़ स्पीच “ का फायदा बस आप लोगो तक मेरी बात पहुचाने के लिए ही है . लेकिन कुछ लोग हैं जो इस का गलत फायदा उठा कर जो मन में आये वो बोलते हैं . वो बोल देते हैं कि देश के टुकड़े हो जायेंगे  , वो बोल देते हैं देश को बर्बाद कर देंगे  , वो बोल देते हैं आतंकवाद को बढ़ावा देंगे .
             लेकिन मैं बस ये बोलना चाहता हूँ कि अगर आपके मन में भी कुछ मेरे ही जैसा है तो आप भी एक सच्चे हिन्दुस्तानी हैं और अगर ऐसा नहीं है तो आपको भी चेतावनी है की सुधर जाओ . नहीं तो जाकर कहीं चुल्लू भर पानी में डूब मरो . पाकिस्तान जाना है पाकिस्तान जाओ .. अफगानिस्तान जाना है अफगानिस्तान जाओ ...बांग्लादेश जाना है बांग्लादेश जाओ .. जाकर डुबो मरो ..किसी को कोई परवाह नहीं है . हाँ आपके परिवार वालो को भी कोई परेशानी नहीं होगी अगर जाकर कहीं मर जाते हो तो . जाति , धर्म  , मुस्लिम , हिन्दू , सिख ये सब बाद में आते हैं ...पहले देश आता है . देश से ऊपर कुछ नहीं होता .
            लेकिन फिर भी कुछ राजनैतिक पार्टी वाले हैं वो चाहे राहुल गाँधी हो या अरविन्द केजरीवाल या डी. राजा हो . ये वो दो कौड़ी के लोग हैं जो थूक कर चाटने वालो में से हैं . उनको अपने फायदे के अलावा  कुछ भी नहीं दिखता है . ये लोग बात करते हैं कि ये jnu के students मासूम है . इनकी आवाज को जो दबाएगा वो देशद्रोही होगा . तो ये बात दिल को चुभती हैं . इनको हर एक जगह जाकर अपना वोट बैंक बनाना होता है .
      JNU में  पढने वाले Students की जो फीस है वो लगभग 700 रूपये सालाना हैं . क्योकि इनकी फीस की आपूर्ति  गवर्नमेंट के ओर से किया जाता है .और इस तरह से जो रूपये हैं वो सब इस देश के जनता के हैं . और आप देखिये इन दो कौड़ी के कुत्तों की हिम्मत ...जो देश के लोगो के पैसों पर पढ़ रहे हैं . इस देश का खा रहे हैं वो ही इस देश को बर्बाद करने का नारा लगा रहे हैं . और एक आतंकवादी को श्रधान्जली दे रहे हैं . उसको शहीद करना चाहते हैं . इन् दो कोड़ी के कुत्तो को आज़ादी चाहिए . इनसे कहो की ये अपना राशन कार्ड , पासपोर्ट , वोटर id , ड्राइविंग लाइसेंस सब लौटा दे . जो भी डिग्रियां ली वो भी लौटा दे. इस देश ने उन् कुत्तो को जो कुछ भी दिया वो सब लौटा दो और चले जाओ उस देश में जहाँ जाने का मन कर रहा है . वो देश तुम्हारा इंतज़ार कर रहा है. तुम्ह्रारी रह देख रहा है उमर खालिद और कन्हैया कुमार जैसे २ कौड़ी के देशद्रोही .
             मैं कुछ ज्यादा नहीं लिखूंगा . भारत सरकार से ये विनती है कि इन जैसे गद्दारों को उम्र कैद से कम सजा न मिले ताकि कोई भविष्य में ऐसा करतूत न करे . इन गद्दारों को इतना नहीं पता की हमारे हिंदुस्तान से ज्यादा सहिष्णु देश इस दुनिया में कोई नहीं हैं . लेकिन अगर इनको लगता है इस देश से बेहतर और भी कोई देश है तो वहां चले जाये . किसी को कोई आपत्ति नहीं होगी .पाकिस्तान में शाम को लोग घर से निकलने में सोचते हैं . पता नहीं कब AK-47 लेकर आ जाये . लेकिन जो गद्दार हैं उनको कौन समझाये .....!!

   तो  दोस्तों आप कृपया करके इस पोस्ट को इतना शेयर करे कि जितने भी देश के गद्दार है , जो नमकहराम है , जो हरामी है उनकी हड्डी काँप उठे .. जय हिन्द जय भारत .. 
Read More

समंदर का रहस्य ?

3:36 am 0
आपको यह जानकर हैरानी होगी की दुनिया में एक ऐसा समंदर है जो जहाज को अपने अंदर खीच लेता है | आज कोई भी इसका पता नही लगा पाया की ऐसा क्यों होता क्योकि आज तक वहा से क्यों भी जिन्दा नही आया है ये जगह है Atlantic ocean में जिसका नाम है |




Bermuda Triagle यह जगह वास्तव में नहीं लकिन जो भी इस जगह में फ़स जाता है उसका निकलना नामुमकिन है कुछ लोग तो इसे डेविल त्रिअगले भी कहते है आज तक की जानकारी के अनुसार लगभग ८ समुद्री जहाज इसमें डूब गए है जिनका आज तक कुछ भी पता नहीं चला |





और न जाने कितने लोग इसके बारे में पता करने की कोशिश में गायब हो गये है | कुछ तो कहते है की यह कोई  Super नेचुरल Power है जो सबको अपनी तरफ खीच लेता है | इसलिए यहाँ जाने वाले किसी भी जहाज या aircarft को जाने की अनुमति नहीं है आज भी लोग इसके बारे में जानने की कोशिश में लगे हुए है |

ये खबर पढने के लिए आपका दन्यावाद अपने कृपया शुझाव और पर्तिक्रिया जरुर दे|
Read More

16 फ़र॰ 2016

Indian Youth Against Anti-Nationals |JNU Terrorists | #Shame On JNU Students

11:27 am 0
दोस्तों 3 दिन पहले से जो JNU यानि जवाहर लाल नेहरु यूनिवर्सिटी ,Delhi जो Anti-National नारे बोले जा रहे है वो बहुत ही शर्मनाक हैं . Youtube की एक youth रिएक्शन वाली चैनल जिसका नाम है "Reactions Among People " ने एक रिएक्शन विडियो अपलोड किया हैं . जिसमे specially स्टूडेंट्स के रिएक्शन लिए गए हैं .


    बहुत लोगो का  मनना है की JNU में जो कुछ भी हो रहा है उसमे policitians का भी हाथ है . लेकिन अभी तक कुछ कहा नहीं जा सकता . वैसे हम जिस देश में रह रहे हैं और वहाँ का खा रहे हैं तो हमे उस देश के खिलाफ प्रोटेस्ट नहीं करना चाहिए .यह बेहद ही शर्मनाक कार्य है . जिसको करने से पहले मर जाना ही ज्यादा उचित हैं . और अगर ऐसे घटना को छात्र अंजाम देते है तो यह देश के लिए बहुत ही शर्म की बात होगी . एक तरह से जो स्टूडेंट्स कर रहे है ये सब वो Terrorist से बढ़कर है .

आप भी इस विडियो को देखिये और अपनी राय को व्यक्त कीजिये . और जो भी अफज़ल गुरु जैसे आतंकवादी को ट्रिब्यूट देने की कोशिश कर रहे हैं उनको भी समझ आ जाये की जिस देश में रहते हैं बस उसी देश के बारे में सोचना चाहिए .







Read More

8 फ़र॰ 2016

Valentine Week या लडको का चुतियापा??

7:36 am 2
Valentine Week या लडको का चुतियापा??
पुरे साल जितना रोमांस नहीं उमड़ता है उसके लाख गुना प्यार तो वैलेंटाइन वीक में उमड़ता है .जैसे उस को बाहर नहीं निकला गया तो उलटी ही हो जाएगी. खैर यह प्यार दोनों तरफ से होता है लेकिन पुरे साल के बदले 7 दिन में पैसे पानी के तरह बहते हैं तो वो बस लड़के के .
कुछ इसी अंदाज़ में यह विडियो B B ki Vines Youtube Channel से Upload किया गया है. जिसमे एक्टर Bhuvan Bam ने  बताया है की यह वैलेंटाइन वीक कोई रोमांटिक वीक नहीं होता है यह एक तरह का चुतियापा ही होता है .
बहुत से लड़के यह मानते है की Valentine Week बहुत ही ज्यादा romantic होता है लेकिन जब यह वैलेंटाइन समाप्त हो जाता है तब उनको समझ आता है की भावना में आकर जो उन्होंने पैसे पानी के तरह बहाए हैं अब उसकी Recovery के लिए उनको फिर एक साल अपना पॉकेट मनी बचाना पड़ेगा.

Valetine Week का First Day :-Rose Day
वैलेंटाइन का पहला दिन Rose day होता है . अगर सही माने तो Rose Day को सबसे ज्यादा फायदा दुकानदारों का होता है. क्योंकि उस दिन गुलाब भी अपने आप को किसी राजकुमार से कम नही समझता . तो इसी से आप अंदाज़ा लगा सकते हैं की उस दिन गुलाब भी किनते भाव में होगा. ऐसे में जब लड़का अपनी महबूबा को रोज गिफ्ट करता है और घर जाते समय लड़की बोलती है –“ जानू मैं यह घर ले कर नही जा सकती ,मम्मी पापा शक करेंगे . लड़का सोचता है :- अरे जब तुझे Rose लेना नहीं था तो खरीदवाई क्यूँ ?? तेरी माँ की ..
तो इस तरह से Day 1 को ही चुतियापा शुरू हो जाता है

Valentine Week का Second day:- Propose Day
अब एक बात नहीं समझ आती कि अगर कोई लड़की किसी लड़के के साथ रिलेशनशिप में है तो बिना propose किये तो हुई नहीं होगी . फिर भी हर साल वैलेंटाइन वीक आता है और उसमे एक दिन होता है propose का . और हां अगर उस दिन लड़की को propose नही किया तो समझ लो भैया ब्रेकअप निश्चित है . और अगर propose भी करना होता है तो वो भी हर बार से अलग स्टाइल में बिलकुल हीरो की तरह ,भले ही मुंह सरसों के तेल के बोतल के जैसे क्यों न हो .

Valentine Week का Third Day :- Chocolate day
अब जो तीसरा दिन आता है वो होता है चॉकलेट day . लडकियों की चॉकलेट की डिमांड तो ऐसे होती है जैसे लड़के के बाप की चॉकलेट की फक्ट्री हो . और वैसे भी पूरे साल लडकियों को चॉकलेट दो तो बोलती है , नहीं बेबी मैं मोती हो जाउंगी . और चॉकलेट day को तो ऐसे चॉकलेट का नाम लेती है जो लड़का उस चॉकलेट का नाम भी ठीक से नही बोल पाता. हद है यार ये वैलेंटाइन .

Valentine Week का Fourth Day :- Teddy day
अब वैलेंटाइन Week पूरे शिखर पर होता है . सभी जगह रोमांस ही रोमांस दिखाई देता है. Teddy day के दिन लड़की को Teddy Bear चाहिए होता है. अब साला लड़के से ज्यादा प्यारा teddy bear हो जाता है . और वो भी कोई छोटा से teddy bear नही चाहिए होता हैं . उनको पूरा असली भालू के बराबर ही teddy चाहिए . वो क्या हैं न रात को सोते समय तकिया को पकड कर सोने में मज़ा नहीं आता .??

Valentine Week का Fifth Day :- Promise day
भैया इस दुनिया में सभी बुरे काम कर लो लेकिन किसी को प्रॉमिस मत करो . आजकल तो लोग हगना भूल जा रहे है साला प्रॉमिस कहा से याद रहे . और गलती से लडके ने भावना में बह कर लडकी को कोई प्रॉमिस भी कर दिया तो वो दुनिया का सबसे Important काम हो जाता है . उसके लिए तो लड़का पूरा जी जान लगा देता हैं.

Valentine Week का Sixth Day :- Hug day
अब दिन आता है हगने का ...मेरा मतलब Hug Day . साला जिसका नाम भी लेने  में वाशरूम की याद आ जाती है लोग उसको भी बड़े सिद्दत के साथ मानते हैं. और ये इंग्लिश wordका इतना Confusion है कि अगर लड़का बोलता है लडकी से चलो “हग” दो . लड़की बोलती है –“ अभी प्रेशर नहीं है “.

Valentine Week का Seventh & Last Day :- Kiss day
अब लड़के की लाटरी लगने की बारी होती है . लाटरी लग भी जाती है लेकिन साला लाटरी टिकेट Pant में भूल जाते है और वो pant वाशिंग मशीन में 15 मिनट चक्कर काट रहा होता है . मेरे कहने का मतलब यह है कि जब लड़का बोलता है –आज तो Valentine Day मना लिया जाय . तो लड़की बोलती है मतलब-???
लड़का- अरे मतलब यह की आज  तो Kiss day है चलो किस करते हैं.
लड़की- देखो बेबी ! मैं न शादी तक अपवित्र नहीं होना चाहती .
अब तो लड़के के सारे अरमानो पर पानी फिर जाता है. यह वो फीलिंग होती है जब महीने के लास्ट दिन सैलरी आनी होती है और चेक बाउंस हो जाता है .

Check Out The Video:-

फ्रेंड्स इस तरह से वैलेंटाइन day हर बार की तरह लडको की मार लेता है .लेकिन कुछ लडके होते है जो जंग जीत लेते हैं. तो अगर ऐसे hi आपके साथ कुछ हुआ तो आप कमेंट में शेयर कर सकते हैं . J





Read More

7 फ़र॰ 2016

Best Collection of Life Hacking SMS in Hindi |दिल को छूने वाली शायरी-2

3:58 am 3
Collection Of Best Life Hacking SMS (दिल को छूने वाली शायरी -२)


#1.मुसीबत में अगर मदद मांगो तो सोच कर मागना क्योकि मुसीबत थोड़ी देर की होती है और एहसान जिंदगी भर का.....

#2.मशवरा तो खूब देते हो
"खुश रहा करो" कभी कभी वजह भी दे दिया करो...

#3.कल एक इन्सान रोटी मांगकर ले गया और करोड़ों कि दुआयें दे गया, पता ही नहीँ चला की, गरीब वो था की मैं....
#4.गठरी बाँध बैठा है अनाड़ी
साथ जो ले जाना था वो कमाया ही नहीं

#5.मैं उस किस्मत का सबसे पसंदीदा खिलौना हूँ, वो रोज़ जोड़ती है मुझे फिर से तोड़ने के लिए....

#6.जिस घाव से खून नहीं निकलता, समझ लेना वो शायद किसी अपने ही ने दिया है...

#7.बचपन भी कमाल का था
खेलते खेलते चाहें छत पर सोयें या ज़मीन पर, आँख बिस्तर पर ही खुलती थी...

#8.खोए हुए हम खुद हैं, और ढूंढते भगवान को हैं...

#9.अहंकार दिखा के किसी रिश्ते को तोड़ने से अच्छा है की,माफ़ी मांगकर वो रिश्ता निभाया जाये....

#10.जिन्दगी तेरी भी, अजब परिभाषा है..सँवर गई तो जन्नत, नहीं तो सिर्फ तमाशा है...

#11.खुशीयाँ तकदीर में होनी चाहिये, तस्वीर मे तो हर कोई मुस्कुराता है...

#12. जिंदगी भी विडियो गेम सी हो गयी है  एक लैवल क्रॉस करो तो अगला लैवल और मुश्किल आ जाता हैं.....

#13.इतनी चाहत तो लाखो
रु पाने की भी नही होती, जितनी बचपन की तस्वीर देखकर बचपन में जाने की होती है.......

#14.हमेशा छोटी छोटी गलतियों से बचने की कोशिश किया करो , क्योंकि इन्सान पहाड़ो से नहीं पत्थरों से ठोकर खाता है ..
Dosto Agar Pasand Aayi toh Please isko share jarur kare...!!
Read More